मेरे पति ने सुहागरात पर मुझको बेदर्दी से चोदा और वीडियो वायरल किया


007

Administrator
Staff member
Joined
Aug 28, 2013
Messages
68,486
Reaction score
429
Points
113
Age
37
//modul-city.ru by| category,,,,,,,,,,,| No Comments नमस्कार दोंस्तों, मैं प्रतिभा आपको अपनी दर्दभरी कहानी सुना रही हूँ। आप ये कहानी sexkahani.net पर पढ़ रहे है। मैं फरुखाबाद की रहने वाली हूँ। मेरी शादी कुछ साल पहले उन्नाव निवासी भूपेंद्र से कर दी गयी। मेरे पापा ने मेरी शादी में 20 लाख नकद दिया। जो जो मेरे पति, सास ससुर ने डिमांड की उनको दिया। मैं केवल 21 साल की थी जब मेरी शादी हुई। असल में मैं चार बहने हूँ। मेरी 3 बहने और दी। इसलिये पापा ने सोचा की एक एक लड़की को निपटाते चले। इसलिये फ्रेंड्स पापा ने 30 लाख का भारी भरकम कर्ज लेकर मेरी शादी भूपेंद्र से कर दी। जिस तरह हर लड़की अपनी शादी के हजारों सपने देखती है, वैसे ही सुनहरे सपने मैंने बुने थे। क्या क्या सपने मैंने देखे थे। पति ऐसे प्यार करेगा, वैसे करेगा। खैर मेरी शादी हो गयी। सुहागरात में मैंने बड़ा खूबसूरत सा लाल रंग का लहंगा पहना था। मैं घूंघट करके बैठी थी। मन में हजारों सपने थे। मेरी सहेलिया मुझको बताती थी की उनके पति ने उनको ये सुहागरात के दिन ये दिया वो दिया। कोई कहती थी मुझको सोने का हार गिफ्ट किया कोई सखी कहती थी मुझको हीरे की अंगूठी थी। तो दोंस्तों, मैं भी अपने होने वाले पति से हजारों उम्मीद की थी। मेरा चेहरा शर्म से लाल था। आज पति देव मेरे साथ क्या क्या करेंगे, मुझको कैसे कैसे लेंगे, ये सब सोचकर मैं लजा जाती थी। मैं अपनी सपनों की दुनिया में हसींन सपने बन रही थी की रात ने 12 बजा दिए। मेरे पति भूपेन्द्र की भाभीयों ने उनको मेरे कमरे में धक्का दे दिया। वो अंदर आ गए। मेरा दिल तो धक्क से हो गया। मारे लाज शर्म से मैं मरी जा रही थी। पति मेरे पास आकर बैठे। उनके मुँह से शराब का एक बहुत ही तेज भभका आया। मेरा मूड आफ हो गया। आपने पी है?? मैंने एकाएक पूछ लिया। अब मैंने शर्माना छोड़ दिया। क्योंकि मेरा दिमाग खराब हो गया था। उन्होंने अपनी शेरवानी से रम की एक छोटी बोतल निकली और मेरे सामने एक घुट और लगाया।
ये क्या बदतमीजी है!! आपको हमारी सुहागरात में ऐसा नही करना चाहिए! मैंने कहा
अगले ही छड़ मेरे गाल पर भन्नाता एक झापड़ बड़ा। मेरा जबड़ा हिल गया।
मैंने पी है और उसके लिए तू.और सिर्फ तू जिम्मेदार है! वो बोले। मैं कुछ समझ् नही पायी। मैं थोड़ा डर भी गयी थी। आज की रात का तो कबाड़ा हो गया। आज ही सुहागरात को मैं पिट गयी।
मैं?? मैंने डरते हुए पूछा। वो शराब के नशे में टल्ली थे। झूम रहे थे।
हाँ है तेरी वजह से। तेरी वजह से मैं अपनी गर्लफ्रेंड से शादी नही कर पाया। चुड़ैल तेरी वजह से!! जानती है मैं उससे कितना प्यार करता था। 10 साल से मेरा उससे ऑफर चल रहा था। पर तेरे बपने आकर सारि कहानी बिगाड़ दी। मेरे घर वालों को 20 लाख नकद दे दिया और मेरे बॉप ने जबर्दस्ती मुझे तेरे साथ शादी के खूटे में बाँध दिया। कामिनी! छिनाल! चुड़ैल! मैंने तुझको जितनी गालियाँ दू कम है! पति बोले। बॉप रे!! ये सुनकर तो मेरी माँ चुद गयी। मेरी गाण्ड फट गई। मैं यहाँ कितने सपने देख रही थी पति ऐसा होगा। वैसा होगा। ये भोसड़ी का तो सबसे हटके निकल गया। 10 साल से हरामी अपनी माल से फसा है। पता नही कितने हजार बाद उसको चोद चूका होगा। इसका मतलब तो ये हुआ की मैं इसकी दोस्त नही दुश्मन हूँ। मेरी वजह से ये अपनी सामान से शादी नही कर पाया। तबतो ये मुझको बिलकुल भी प्यार नही करेगा। ऊपर से मेरी गांड़ मार देगा।
मैं सोच विचार कर रही थी की इतने में 2 3 झापड़ मुझको और पड़ गये। मैंने रोने लगी।loading... चुप!! चुप कुतिया!! खबर दार आवाज बाहर निकाली पति ने मेरा गला दोनों हाथों से दबा दिया।
जैसा जैसा मैं कहता हूँ, करती जा। वरना तुझको मैं जान से मार दूँगा! वो बोला। मैं डर से थर थर काँपने लगी। अब मैं केवल आवाज दबा के सिसकियाँ ले सकती थी। पति का आदेश था कि रोने की आवाज बाहर ना जाए। दुनिया की नजर में वो भला आदमी बनना चाहता था। हाय री, मेरी तो किस्मत फुट गयी। मैंने कहा। क्या सपने देख रही थी और क्या निकला। दोंस्तों जी कर रहा था कि जहर खाके मर जाऊ।
चल कामिनी पैर दबा! मेरा पति बोला।
मैं तो उसके खूंखार रूप से अवगत हो ही चुकी थी। मेरे घर में माँ मम्मी ने यही सिखाया था कि भगवान के बाद पति ही देवता होता है। इसलिये मैं उसी शिक्षा पर चल रही थी। मैं अब उससे डरने भी लग गयी थी। इसलिए मैं चुप चाप उनके पैर दबाने लगी। 2 घण्टे हो गए। परिवार के सब लोग अब सो चुके थे। क्योंकि 2 रात से सब मेरी शादी में फंसे थे। अब 2 बज गए थे। 2 घण्टे तक पैर दबाते दबाते मैं जरा थक गयी थी। मैं झपकी लेने लगी। मुझको नींद आने लगी थी। तभी मुझको मुँह पर एक जोर की लात पड़ी। मेरे मुँह और कंधे पर लगी।
छिनाल! ये तेरा घर नही है। मायके में नही है तू! ससुराल में है! इसलिये जैसा मैं कहूंगा वैसा ही तू करेगी! पति बोला। मैंने रोने लगी।
चुप चुप! वरना अभी तेरा इससे गला दबा दूँगा! तेरी कहानी खत्म हो जाएगी और मैं अपनी माल से शादी कर लूंगा। पति बोला। मैं एक बार फिर से सिसकी लेने लगी। अब तो मैं ऐसे नर्क में फस गयी थी की खुलकर रोकर अपना दुख भी नहीं कम कर सकती थी। हाय राम फुट गयी मेरी किस्मत। मैंने खुद से कहा। दोंस्तों, अब मैं फिरसे पति देव के पैर दबाने लगी। मेरे हाथों में दर्द हो रहा था। आधे घण्टे गुजर गए।
चल नँगी हो जा!! चोदूंगा! पति बोला। उसने 2 मोबाइल फोन के वीडियो रिकॉर्डिंग शुरू कर दी और 2 जगह दीवाल में लगा दिए।
ये क्या?? ये क्या कर रहे है आप?? मैंने सिसकी लेते हुए पूछा। आप ये कहानी नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है।
कुछ नही! बाद में देखूंगा! वो धीरे से बोला। बॉप रे! ये तो भारी कमीना निकल गया। कहीं मेरा वीडियो इंटरनेट पर ना डाल दे। मेरे दिल में बड़ा डर पैदा हो गया।
नही नही!! मैं वीडियो नही बनवा सकती मैंने कहा
बस फिर क्या था दोंस्तों। पति ने मेरे बाल कसके पकड़ लिए। मेरे सारे बाल खुल गए। मुझ पर लात जूतों की बौछार हो गयी। कितने मुक्के छप्पड़ पड़े की मैं नही जानती हूँ। पति ने चमड़े की बेल्ट उठायी और मुझपर बेल्ट ही बेल्ट पढ़ने लगी। मेरी तो खाल उधड़ गयी दोंस्तों। है भगवान! ये दिन देखने से पहले मैं मर क्यों नही गयी। मौत इससे अच्छी होती।
सुन रंडी! तेरे बापने तेरी शादी मुझसे की है। तेरा हाथ मेरे हाथ में दिया है। इसलिए मेरा तुझपर पूरा हक है। तेरे बापको भी पता है कि तू यहाँ हर रात चुदेगी। तो अब ये बात साफ हो गयी की उसने तुझको मुझे चोदने के लिए ही दिया है। तो अब छिनाल अगर मैं तुझसे चूत मांग रहा हूँ तो तू नाटक मत करना! पति बोला।
मैं रोने लगी। मैं दबकर रो रही थी। पति मेरे एक एक कपड़े नोचने लगी। मैं नही नही कर रही थी। मेरे चीर हरण का वीडियो बनना सुरु हो गया। पहले मेरा लहंगा उतारा। फिर मेरा ब्लॉउज़ तो लगभग लगभग फाड़ दी दिया। पेटीकोट भी खीच दिया। मैं नँगी हो गयी। उधर मेरा सुहागरात का चुदाई का वीडियो 2 2 मोबाइल फोन्स पर बनने लगा। मैं रोने लगी।
तेरे बॉप ने तुझको मुझे चोदने को ही दिया है, फिर क्यों रोती है! पति फिरसे चीखकर बोला।
दोंस्तों, सायद वो दिन मेरी जीवन का सबसे काला दिन था। आज मैं कसके चुदूंगी और मेरा वीडियो भी बन जाएगा। पता नही ये शराबी कही वाइरल ना कर दे। ये सोच सोचकर मेरा धुंआ निकला जा रहा था। अब मैं लाल ब्रा और पैंटी में थी। मैं चुदना जरूर चाहती थी पर इस तरह नही। मैं काम जरूर लगवाना चाहती थी पर प्यार से। इस तरह मार मारके नही। मैं कैमरे के सामने थी। खड़ी थी। कहीं भाग भी ना सकती थी। भागती तो फिर से पिट जाती। इतने में पति पीछे से आ गए और मुझको पकड़ लिया। मेरे बदन को खिलौना समझ खेलने लगे। वो मेरे बदन से जोक की तरह चिपट गया। मेरे गाल, गले पीठ पर हाथ फिराने लगा। मेरे मम्मो को हाथ में लेने लगा। शराब की बू से मेरा दम घुट रहा था। पति मेरे जिस्म से खेल रहा था। वो मुझ जीती जागती लड़की को खिलौना समझ् के मेरे मम्मे मसल रहा था। मैं कुछ कर भी नहीं सकती थी, क्योंकि वो मेरा पति था। मेरे बॉप ने मुझको चूदने ही तो यहाँ भेजा था। मेरा वीडियो लगातार बन रहा था। मैं सोच रही थी की अगर ये वाइरल हुआ तो सब चड्ढी बॉडी में देख लेंगे। अब पति ने मेरी लाल ब्रा के हक पीछे से खोल दिये। ब्रा खींच कर निकाल दी। हाय मैं नँगी हो गयी कमरे के सामने। मैंने अपने दोनों हाथ अपने वक्षों पर रख दिए, अपनी इज्जत बचाने लगी। पर शराबी पति ने वो भी हटा दिए। हाय, मैं कैमरे के सामने नँगी हो गयी। लगा 1000 लोग की आँखे मेरी इज्जत यानि मेरे वक्षों को घूर रही हो। मेरे दोनों मस्त दुधिया कबूतर अब कमरे में रिकॉर्ड हो गए। आप ये कहानी नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है। मैं खड़ी थी। अब मेरा पति मेरे सामने आ गया। झुक्क्कर मेरे दूध पीने लगा। मैं कुछ नही कर पाई, मैं मना भी नहीं कर पाई। क्योंकि वो मेरा पति था। और भारतीय समाज में पति ही परमेश्वर होता है। पति मेरे खूबसूरत गर्वीले वक्षों को पीने लगा। सब उसकी हरकते कैमरे में रिकॉर्ड हो रही थी। उसने मेरे दूध जी भरकर पिया। अब मेरी चूत में वो ऊँगली करने लगा। कैमरे के सामने ही उसने मेरी पैंटी में हाथ डाल दिया और चुत में ऊँगली करने लगा। मुझे तो यही महसूस हुआ की मेरा बलात्कार हो गया आज दिन दहाड़े। सबके सामने। दोंस्तों, पति बड़ी देर तक खड़े खड़े मेरी बुर में ऊँगली करते रहे। मेरी पैंटी भी नहीं निकाली। एक बार तो मैं पैंटी में ही झड़ गयी। हाय दैया, आज कैमरे के सामने मैं झड़ भी गयी। कहीं ये कुत्तापना ना दिखा दे, कहीं दोंस्तों को ये वीडियो ना दिखा दे। मैं मन ही मन डर गई थी।
मैं आपके पाँव पड़ती हूँ। ये।वीडियो इंटरनेट पर मत लगाना! मैंने बड़ी धीमे से कहा।
तेरी कसम प्रतिभा। मैं हरामी हूँ। पर दर हरामी नहीं। पति बोला। मुझको थोडा अच्छा महसूस हुआ। एक बार झड़ने ने पैंटी मेरे माल से भीग गयी थी। सारा माल पैंटी में निकल गया था। पति मुझको बिस्तर पर ले गए। पैंटी उतार दी। पहले सुंघा। फिर चाटने लगे। मेरा सारा मॉल पी गये। उन्होंने मेरे दोनों पैर खोल दिये। मेरी बुर बड़ी मस्त गदरायी गोरी गोरी थी। पति ने मेरी बुर के दर्शन किये।
तेरी चूत भी मस्त है! पर मेरी समान से अच्छी नही! वो बोले।
आज मेरी सुहागरात पर एक परायी औरत का नाम सुनकर मैं जान गई की मेरा पति कभी सिर्फ मेरा नही हो पाएगा। क्या फूटी किस्मत है मेरी। पति ने मेरी बुर ऊँगली से फैलाई और कमरे की ओर की। बॉप रे! अब मेरी चूत कैसी है सब जान जाएंगे। मेरे दिल में धक्क से हुआ। पति नशे में झूम रहे थे। मेरी बुर चाटने लगा। खूब चाटते चले गए। मैं चुदना जरूर चाहती थी। पर प्यार से। पर इधर पति तो मार मारके मुझको ले रहे थे।
दोंस्तों अब मैं पूरी तरह नँगी बिस्तर पर थी। मेरे बालों को मोगरे के फूल फँस गये थे। क्योंकि अभी पति ने कुछ देर पहले ही मुझको लात घूसों से मारा था। तभी मेरे बालों का गजरा टूट गया था और फूल इधर उधर बाल में फस गये थे। मेरे होंठों पर लाली लगी थी। नाक में बड़ी नथ थी। गले में सोने का मंगलसूत्र था। कलाइयों में हाथ भर भरके सुहाग की चूड़िया थी। कंगन थे। हाथों में शादी की मेहंदी थी। कमर पर करधन थी। पैरों में पायल और बिछुए थे। वही मेरा कुत्ता पति मुझको चोद चोदकर वीडियो बना रहा था। भगवान जाने कल ये क्या करे। मुझको तो टेंशन हो रही थी इस बात की। पति उधर कैमरे की तरफ मेरी बुर दिखा दिखाके पी रहा था। खूब बुर पी उसने।
चल मेरा लौड़ा चूस!! वो बोला। पर आवाज में कहीं भी प्यार ना था। बस तानाशाही थी। मैं मजबूर थी। कुत्ते का ये सांड जैसा लण्ड था। सुपाड़ा निकला था। मैं जान गई की ये साला कुंवारा नही है। अपनी माल को इसी लण्ड से 10 साल से चोद रहा होगा। तब ही लण्ड ऐसा उघड़ गया है। मैं चूसने लगी। पति मेरे मुँह को चोदने लगे।
अंदर ले और अंदर!! वो बोले। लगा मैं उनकी बीवी नही कोई रंडी हूँ। मैं चूसने लगी। कहीं हल्का सा मेरे दाँत से उनका लण्ड कट गया।
छिनार!! देखके, वरना अभी तू चप्पल ही चप्पल पाएगी! वो बोले। मैं डर गई। अब सम्भल के चूसने लगी। दोंस्तों, कुछ देर बाद उन्होंने मेरी दोनों टांगे उठाकर अपने कंधों पर रख ली। और मुझे चोदने लगे। कहीं कोई प्यार नही, कोई मेरे लिए कोई इज्जत सम्मान नही। सिर्फ वासना और चुदास हर जगह। मुझको रंडियों की तरह वो हरामी चोदने लगा। पौन घण्टे बाद मेरी चूत में हल्की जलन होने लगी। मैं आ आआहा करने लगी। लण्ड से बचने के लिए मैं चुत्तड़ इधर उधर करने लगी की पति देव जान जाये की मुझको कुछ आराम।चाहिए। कुछ मिनट के लिए लण्ड बहार निकाल ले। पर दोंस्तों 10 साल तक अपनी सामान को पेल पेलके वो बहुत बड़ा चोदूँ बन गया था। जब मैं लण्ड से बचने के लिए चुत्तड़ बायीं तरह करती तो पति भी बाए तरफ एडजस्ट हो जाता। दाँये करती तो दायीं तरह एडजस्ट हो जाता। पर हरामी ने एक सेकंड को भी लण्ड बाहर ना निकाला। बस घप्प घप्प मुझको पेलता खाता चला गया। मैं बिना रुके चुदती चली गयी। सबसे बुरी बात थी ये सुहागरात का चुदाई कांड कैमरे में रिकॉर्ड हो रहा था। 2 घण्टे पति ने मुझको चोदा।
चल कुतिया बन! गाण्ड मारूँगा! वो बोला।
सुनिये जी! थोड़ा आराम कर लूँ। बुर दुःख रही है? ? मैंने बकरी की तरह मिमियाते हुए पूछा।
पति ने फिर आँख दिखाई। मैं जान गई हरामी टाइप का आदमी है। मानेगा नहीं। मैंने हथियार डाल दिए। कुतिया बन गए। पति 2 2 कैमरे के सामने मेरी गाण्ड मारने लगा। 1 साल बाद मैं मायके गयी। मेरी सेहेलियां मेरे पास आई। आप ये कहानी नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है।
क्यों प्रतिभा!! तूने तो बड़ी ऐश की है! हम सब जान गई सहेलियों ने कहा।
तुम लोग किसके बारे में बात कर रही हो?? मैं कुछ समझी नही! मैंने कहा। मेरी सखियों ने एक पोर्न वेबसाइट खोली। मैं उसका नाम नही बताउंगी। गुप्त है। हनीमून नाइट्स वाली कैटगोरी खोली। और एक विडियो ऑन किया। माँ कसम! मेरी गाड़ फट गई। ये मेरा ही सुहागरात वाला वीडियो था। 2 घण्टे का वीडियो था। मैंने पूरा देखा। मेरे पैर तले जमीन खिसक गयी। जिसका डऱ था वही हुआ। दोंस्तों अब तक 10 लाख लोग वो मेरा चुदाई वीडियो देख चुके थे। हाय राम 10 लाख लोग अब मुझको चुदते देख चुके थे। मैं रोने के सिवा कुछ ना कर सकी। दोंस्तों बस रही सुक्र मानिए की मेरे घर पर कोई इस कांड के बारे में नही जान पाया। आज भी मेरा पति हर रात शराब पीकर आता है और मुझको रण्डियों की तरह पेलता ठोकता है। मेरे पापा ने मेरी शादी के लिए 30 लाख लोन लिया था। इस कारण दोंस्तों मैं इस सूअर को नहीं छोड़ पायी। पापा को कितना नुकसान होता।
loading...
Related Posts

byby

Users Who Are Viewing This Thread (Users: 0, Guests: 0)


Online porn video at mobile phone


காமேஸ்வரன் கோவில் செக்ஸ் கனத அக்கா தம்பி புன்டை edigina kodukiki legisindi katalucache:4G94HXqe9zsJ:https://brand-krujki.ru/tags/prvr-m-x/page-3 Kanndasix vidasgfr logot sex storiesটাইট ভোদা চোদার মজা গল্পमम्मी का रसीला भोसड़ाபுனிதா sex com தமிழ்Bangla Choti বাচ্চার ছোট নুনু বাংলা চটিपुची मधून बुली Xxxpahelwan jeth ji ka chudaiपुच्ची सेक्सी कथाகணவரின் பதவி உயர்வுக்கு மனைவி 9बिवी को चाहिये बडा लंडകുണ്ടന്റെ ഉമ്മKambi foram kathakalമലയാളം സെക്സ് സ്റ്റോറീസ് ഞാനും മമ്മിയുംcache:M70YTnqGKSsJ:https://brand-krujki.ru/forums/telugu-sex-stories-%E0%B0%A4%E0%B1%86%E0%B0%B2%E0%B1%81%E0%B0%97%E0%B1%81-%E0%B0%B8%E0%B1%86%E0%B0%95%E0%B1%8D%E0%B0%B8%E0%B1%8D-%E0%B0%95%E0%B0%A5%E0%B0%B2%E0%B1%81.12/ ಅಮ್ಮನ ತುಲ್ಲಿಗೆ ಅಪ್ಪನ ತುಣ್ಣೆமனைவியை ஓத்த ஆட்டோகாரன்முரட்டு உடம்பின் sex videosമലയാളം കമ്പികൾ ഉമ്മ എളാപ്പയും ഉപ്പയുംआंड तला लंडा तला ব্ল্যাকমেইল bangla choitfufaji adults xxx videoতুমিতো তোমার বোনকে চোদোভাবি আমার সাথে সেক্স করার জন্য পাগল চোটি গল্পध्होबी घाट पर माँ की चुदाईbiwi chudne lgi praye mardo seবা০লা চটি আমার গৃহবধুকে চুদল একটা ছেলে সাথে চুদাচুদি গলপমামাৰ সৰু ছোৱালী ভিতালীৰ টাইত বুচ.உன் பொண்டாட்டி புண்டைக்குள்ளே விந்துबहन की चूचीदीदी चुद गई रंडी की तरहmamanar asingama pesunga tamil sex storiesଖୁଡିଙ୍କ ବିଆ ଭିତରେ ପୁରେଇ ଦେଲିগুদ ফাটিয়ে দেওয়ার গল্পBHid me meri chut masli Bahini la hanimun la gheun gelo marathi sex storiesपुची मारून घेतली मराठी कथाগুদটা চোষাতে খুব আরামఅమ్మ 10వ కొఢుకు తో తెలుగు సెక్స్ కథలుഅമ്മയെ ഊക്കണംছামা টিস টিস বারা টন টনதமிழ் அக்கா காமகதைகள்यहाँ लण्डो की चुसाई होती हैबँगाल की लडकियो का सेकसी विडियोಕನ್ನಡ esx stroies page 36ಕನ್ನಡ sex ಅಮ್ಮ ಅತ್ತಿಗೆಯ ಕಥೆಗಳುமுந்தானை பிரா xossipsexfufaकाळे लंड चोकलाತುಲ್ಲು ಮೊಲೆ ತಂಗಿடாக்டர் காம கதைகள்भैया भाभी झवाझवी बघितलीபுனிதா புண்டையை விரித்துज़हरीन का प्यासा सफ़रগাখীৰ চুপিshabana bubes chusne wala xx vidioஅக்காவின் சூத்தை நக்கினேன்নিপা দুধ চটিwww.அம்மாவின் சூத்தில் விரைத்த சுன்னி காமகதைஅபிநயா – என் நண்பனின் அழகு மனைவி – 5mob മലയാളം ഫാമിലി insent ആന്റി സ്റ്റോറീസ്incest baba meyeപെങ്ങളുടെ കുണ്ടിসুপ্তা bangla chotiমাই দুটো কে তো কাঠাল বানিয়ে রেখেছనా పెళ్ళాన్ని వాడు దెంగాడు.ಅಮ್ಮನ ತೂತು sex queensindhuচুদার ইতিহাসNaan thevidiya ana kathaigalபுண்டைவெறி மாமியார் கதைகள்ஆன்ட்டி சூத்தில்Okhomiya letera kahini