वो इश्क़ जो हमसे रूठ गया - 34


007

Administrator
Staff member
Joined
Aug 28, 2013
Messages
68,486
Reaction score
415
Points
113
Age
37
//modul-city.ru उस मैं डूबती हूँ उतना ही था(बसे) से दूर हो जाती हूँ. और मैं चाहती भी नहीं के कोई मुझे उसे समंदर से निकाले मैं बस वहीं डूब के मर जाना चाहती हूँ अब". अभिनव उसकी बातें सुन कर कुछ देर तक उससे डैखहता ही रही गया. इतनी शिद्दत, इतनी गहराई, वो तो सोच भी नहीं सकता था के मीना की रूह इस हद तक वीरेंदर के वजूद से लिपट चुकी है

"मैं ये तो नहीं कहों गा के मुझे दुख हुआ तुम्हारी बातें सुन कर. दिल से मैं भी यही चाहता था के तुम जहाँ रहो खुश रहो. हाँ मगर मैं झूठ भी नहीं बोलों गा तुम से, मैं अपने दिल से तुम्हारी मोहब्बत को निकल तो नहीं सकता और ना मुझे अंदाज़ा था के तुम इस हद तक वीरेंदर से मोहब्बत करती हो. ना ही मैं तुम से इस लिए मिलना चाहता था के मुझे तुम्हारी जिंदगी खराब करनी थी. दुनिया मैं चाहे कोई भी आप को जितना गलत समझे इंसान को परवाह नहीं होती मगर जिस से आप मोहब्बत करते हूँ अगर वो आप को गलत समझना शुरू कर दे तो इस से बड़ी सजा कोई नहीं होती. मैं भी कुछ ऐसी ही सजा काट रहा था था 1 साल से, तुम्हाइन सब कुछ बता कर आज बहुत हल्का महसूस कर रहा हूँ खुद को". आख़िर काफी देर बाद अभिनव ने मुस्कुराते हुए कहा

"कुछ खाने के लिए आर्डर कराईं? मेरे साथ खाना तो खायो गी ना?". अभिनव ने एक आस से उसकी तरफ देखा

"अभिनव, यहाँ आने से पहले शायद मेरे दिल मैं बहुत सारी बातें देन, शायद कहीं ना कहीं मुझे ये भी लग रहा था के वीरेंदर की मज़ूरी का सुन के तुम मेरी किसी कमज़ोरी से फायदा ना उठना चाहते हो. मगर तुम्हारी बातें सुन कर मेरा दिल भी बिलकुल हल्का हो गया है. शायद हमारी किस्मत मैं मिलना नहीं था मगर हम एक नहीं हो सके तो क्या हुआ. अच्छे दोस्तों की तरह जिंदगी मैं कभी कभार मिल तो सकते हैं. बहुत कम लोग होते हैं जो अपने उन गुनाहों की सफाई देते हैं जो उन्होंने नहीं किये होते. मुझे बस इस बात की खुशी है के मैंने किसी गलत इंसान को नहीं छूना था अपने लिए, मैंने जैसा तुम्हाइन समझा था तुम वाक़ई वैसे ही हो. मैं हमेशा दुवा कारों गी के तुम्हाइन भी जिंदगी मैं मुझ से भी ज्यादा अच्छा और प्यार करने वाला साथी मिले". मीना पहली बार दिल से मुस्कराई थी

"और हाँ खाना जरूर खायों गी मैं"

"अगर तुम्हाइन बुरा ना लगे तो मैं जाने से पहले एक बार वीरेंदर सिंग से मिलना चाहता हूँ. तुम उन्होंने सब बता तो चुकी हो, क्या सोचते हूँ गे कैसा इंसान है के उनकी पत्नी के पीछे पड़ा है और इतनी हिम्मत नहीं के उन से मिल सके. उनकी तबीयत का भी पूंछ लूँ गा"

"हाँ जरूर, मेरा भी ख्याल है तुम्हाइन एक बार वीरेंदर से जरूर मिलना चाहिये". मीना ने कुछ सोचते हुए कहा. अभिनव से मिलने के बाद उसके दिल मैं जो खौफ थे वो सब खत्म हो गये थे. और वीरेंदर से मिलने के बाद शायद हमेशा के लिए वीरेंदर का दिल भी साफ हो जाए उसे की तरफ से. अगर वो कुछ सोच भी रहा था तो उससे यकीन था अभिनव से मिलने के बाद उसकी सारी सोचैईन अपनी मौत आप मर जैन गी

******************************

उससे घर फुँचते फुँचते 2 घंटे हो गये थे. वो वीरेंदर को 1 घंटे का कह कर आए थी, मगर वो तो कुछ और ही सोच कर अभिनव से मिलने गयी थी, उससे क्या पता था के अभिनव का जो रूप उसके सामने होगा वो ऐसा होगा के वो चाहते हुए भी सख्ती नहीं कर सके गी उसके साथ

"शमीम, ठाकुर साहब को खाना दे दया था". उस ने आते ही सब से पहले नौकरी से पूछा

"नहीं जी. मैं एक बार गयी थी उन से पूछने मगर बहुत घुसा कर रहे थे मुझे दाँत के कमरे से निकाल दया". उससे पता था यही जवाब मिले गा उससे

"अच्छा ठीक है तुम फौरन खाना गरम कर के उप्पर कमरे मैं ले आओ"

वो कमरे मैं पहुंची तो वीरेंदर अंधैरा किये, बेड पे लेटा हुआ था. उस ने लाइट ऑन कर दी

"आप सो रहे हैं क्या?"

"नहीं वैसे ही लेटा हुआ था". वो वीरेंदर के लहज़े से कुछ अंदाज़ा नहीं लगा सकी के उसका मूंड़ कैसा है

"तब से सो रहे हैं क्या? आप ने खाना भी नहीं खाया"

"नहीं. कुछ देर पहले ही लेटा था, चंदा आए हुए थी कुछ देर पहले ही गयी है"

"चंदा आए थी?". उसके लिए ये खबर हैरान करने वाली थी

"हाँ तुम से मिलने आए थी. वो लोग इस शहर से जा रहे हैं तो जाने से पहले तुम से मिलना चाहती थी"

"तो आप मुझे फोन कर के बुलवा लायटे"

"कहाँ फोन करता? कितनी बार कहा है तुम से फिर भी मोबाइल नहीं लेटी तुम, अब क्या ड्राइवर को कहता के बेगम साहिबा को ले कर आओ?"

"अच्छा खैर है कोई बात नहीं. मैं खरीद लूँ गी मोबाइल, आप नाराज़ ना हूँ"

"यादव को बुलाओ मैं वॉशरूम जाना चाहता हूँ"

"और हाँ, ये कुछ चीज़ाइन हैं तुम्हारी जो चंदा दे गयी थी. बता रही थी के तुम्हारे कमरे की सफाई करते उससे मिली देन, जाने से पहले तुम्हाइन देना चाहती थी". वीरेंदर ने साइड टेबल की दराज़ खोलते हुए कहा

"मेरी कोन सी चीज़ाइन वहाँ रही गाएँ". मीना उसकी बात सुन कर हैरान हो गयी

"मैं जानता हूँ के किसी की पर्सनल डाइयरी पढ़ना बहुत गलत हरकत है. ई आम सॉरी मैं खुद को रोक नहीं सका". वीरेंदर ने उससे उसकी डाइयरीस देते हुए कहा

मीना अपनी जगा पे खड़ी की खड़ी रही गयी. उसके सामने वो डाइयरीस देन जो उस ने उन 3 सालों मैं लिखी देन जब उसके दिल ने अभिनव के नाम पे धड़कना शुरू क्या था. पता नहीं क्या क्या लिखा था उसे ने उसे मैं और वो कह रहा था के उसे ने सब कुछ पढ़ लिया है. मीना को कुछ पल के लिए समझ नहीं आई के वो क्या करे, उससे कुछ कहे, कुछ बताए या नहीं. आख़िर वो डाइयरीस ले कर चुप चाप कमरे से बाहर निकल आई
"ट्रमॅटिक अम्नईषिया" सर पे चोट लगने की वजह से होता है जिस के नतीजे मैं..

Users Who Are Viewing This Thread (Users: 0, Guests: 0)


Online porn video at mobile phone


tamil kamakathaikal அம்மா, மகள் இருவரையும் ஓத்தேன் - பகுதி 9চুদবি স্যারசின்ன கூதியும் பெரிய சூத்தும்बीवी की गोवा में चुदाई स्टोरी हिंदी मेंআপুকে চোদা ইংলিশ মিডিয়ামে পড়াbus me choda sabne milkar hindi rape sex storiesలేలేత పూకుआनलाईन बिडीयो चलना चाहिये पेली पेला चोदाई होना चाहियेসুপ্তা bangla chotiগুদের গল্প পাহাড়ে চোদাகணவரின் பதவி உயர்வுக்கு மனைவி கொடுத்த பரிசுसोते समय बच्चे ने पेले लैंड क्सक्सक्स पोर्न डाउनलोडஅன்பளிப்பு கணவரின் உத்யோக உயர்விற்கு காமகதைఅక్కా. నేను నీ పూకు నాకుతానుപെങ്ങളുടെ കുണ്ടിதமிழ் காம வெறி கதைகள்कडक जवाजवीwww.assames sex story bormaa logotChoti golpo driver ka dia codaiಅವಳ ರಸবাংলা চটি পর্বபொண்டாட்டி ஹனிமூன் புண்டைनागडी नोकरानी सेक्स कथाPanodu sexstoriestamil kolunthan parutha sunniyai pidithenAnnanum avanin thangaiyumasomiya Bohut sex uthise kelaরাবেয়া চাচি কে চুূদাpahli baar sex chut chati fir gusaya land sexsexfufaमुझको चोद आराम सेతెలుగు అమ్మ కోడుకుల బుతు కథలుഉമ്മ കുണ്ടിxossip அம்மா மகன் மகள் குடும்ப காம கதைகள்ইংলিশ মিডিয়ামের বোনকে চোদাನನ್ನ ತುಲ್ಲನ್ನು ನೆಕ್ಕಿहोली में बीवी की अदला बदली सेक्स स्टोरीஅக்காவை படுக்க வை காம கதைஎன் மனைவி நண்பனுடன் பலமுறை படுத்துஅவர் ஓக்க என் புருஷன்കൂത്തി കമ്പിমা ও মামিকে চুদে গর্ভবতি করা বাংলা sex storyடாக்டர் காம கதைகள்என் மனைவிக்கு கிடைத்த கணவர்கள் sex videosపెళ్ళాం ముందే అత్త ను దెంగমেয়েদের ঢুকালে চিংকার করে কেন ?मामीची गांडीत काळा लंडধন,চেট,ভোদারছবিJasmin ru mur sex kahiniलंड पुच्चीतবাংলা চটি গল্প 2018 december বড় গোসল করিয়ে দিলো তখন চুদলামচুদে মাং ফাটিয়ে দিছেமுடங்கிய கணவருடன் சுவாதியின் வாழ்க்கை காம கதைகள்రాత్రి పదయింది. రిక్షా దిగి తలుపు కొట్టానుமனைவியை வைத்து சூதாட்டம் காமக்கதைxossip அம்மா மகன் மகள் குடும்ப காம கதைகள்বাংলা চটি গল্প 2018 december বড় গোসল করিয়ে দিলো তখন চুদলামనా పెళ్లాం పూకులో కార్చిराणीची ठोकाठोकीchoti বাড়ীর বড় বউகூதீ கதைತುಣ್ಣೆ ತೂರಿಸಿ mun genhiki bia fadilichoti - জুলি xossipblack pukllu sax fornপরপুরুষ ঠাপাচ্ছেkamsutra sxkx hiendಮೊಲೆ ಸೆಕ್ಸ್ ಸ್ಟೋರಿಸ್xxx.hindhe.sasu.khanhe.comಪೋಲಾಟವೋ ಪೋಲಿ ಆಟವೋ.. ಭಾಗ-೨ |Shakkela vaa azhake vaa move xxहाँ मैं हूँ बहनचोदमामाच्या मूलीचे सिल तोडलेswathi vikki kama kathikalমাসি আমি xxx videoTamil Lede Sex Storeesவயால் கூதி வேலைவிஞ்ஞான காம கதைanbulla amma sex tamilபுவி புண்டயை நாய் நக்கபன்னு பிரியா.sex"desi bhabhi sheetal leaked personal videos 35 videos 1400-pics"jism ki jarurat ma hindi 3x storyमम्मी आणि फुफा ची झवाझवी स्टोरीbangla choti মা কে চুদতে দেখলাম আরেকজনের সাথে লুকিয়েஅம்மா பணியாரம் ஓத்தென்चुदाई की गई जवानी में मेरी चूत की गर्मीजवाजवी इच्छा का होतेKunwari Ladki Ka Yovanगांड मारून घेते फायदाಅಮ್ಮನ ತುಲ್ಲುతెలుగు అక్క నోట్లో మొడ్డhinimani gariba gharani odia sex stories